Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Thursday, 4 June 2020

PPE KIT
PPE KIT

कोविड- 19 के जोखिम को कम करने के लिए आईआईटी रुड़की के शोधकर्ताओं की टीम ने फेस मास्क और व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण पीपीई के लिए एक नैनो-कोटिंग सिस्टम विकसित किया है। इस कोटिंग का परीक्षण 10-15 मिनट के अंदर रोगाणुओं को प्रभावी ढंग से मारने के लिए किया गया है।

-यूपी: हालात से ऊब चुकी थी महिला सिपाही, शादी के बाद से खुश न रहने पर उठाया आत्मघाती कदम, सुसाइड नोट में लिखी ये बात,

-क्रिकेटर ऋषभ पंत की मां और बहन पर युवक ने लगाए गंभीर आरोप, रुड़की के रेस्टोरेंट में रह चुका शेफ,-ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मॉरिसन के साथ आज आभासी सम्मेलन में भाग लेंगे पीएम मोदी,

Unlock-1: उत्तराखंड में आठ जून के बाद शुरू होगी चारधाम यात्रा, सीमित संख्या में जाएंगे तीर्थयात्री
यह फ़ॉर्म्यूलेशन, स्टेफिलोकोकस ऑरियस और एस्केरिचिया कोलाई ओ157 जैसे नैदानिक रोगाणुओं के खिलाफ बहुत अधिक प्रभावी है। यह चिकित्सा कर्मियों के चेहरे पर मौजूद मास्क, उनके गाउन की कोटिंग के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।

क्या आप अपना खुद का व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं बहुत कम निवेश अधिक लाभ।अब क्लिक करें और शुरू करेंvery low investment more profit Are you want to start your own business.Click and start Now!!


रोगाणुओं के खिलाफ सुरक्षा की एक अतिरिक्त परत
शोध का नेतृत्व करने वाले और आईआईटी रुड़की में जैव प्रौद्योगिकी विभाग और नैनो प्रौद्योगिकी केंद्र के प्रोफेसर नवीन के नवानी के बताया कि चिकित्सा कर्मियों के लिए आंखों की सुरक्षा, गाउन, दस्ताने के साथ ही साथ फेस मास्क, पीपीई का एक मुख्य घटक है।

यह नैनो-कोटिंग चिकित्सा कर्मियों द्वारा पहने गए मास्क में रोगाणुओं के खिलाफ सुरक्षा की एक अतिरिक्त परत प्रदान करने के साथ रोग के जोखिम को कम कर सकती है। इसमें मौजूद चंादी के नैनो कण और पौधे-आधारित सूक्ष्मजीवीरोधी, रोगाणुओं के खिलाफ अपना प्रभाव दिखाकर उन्हें खत्म करते हैं।


No comments:

Post a Comment

If you have any doubts,please let me know.

Popular Posts

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages